उत्तराखंड

Zero Shadow Day 2023: आज है जीरो शेडो डे, परछाई भी छोड़ देगी आपका साथ

Advertisement

आज 18 अगस्त है और आज खगोलीय दृष्टिकोण से देखा जाए तो ये दिन बहुत ही अद्भुत है। ऐसा समय सदियों में होता है। आज आपके पास  इतिहास के रूप में गवाह बनने का समय है। दरअसल आज जीरो शेडो डे (zero shadow day) यानी एक ऐसा दिन जब किसी वस्तु और व्यक्ति की परछाई नहीं बनेगी। आज के दिन कुछ समय के लिए सूरज की किरणें सीधी पड़ेगी, जिसकी वजह कुछ पल के लिए किसी भी चीज की परछाई दिखाई नहीं देगी।

इससे पहले हैदराबाद में नजारा

यह भी पढ़ें 👉  भाजपा नेतृत्व का साथ: डॉ. प्रेमचंद अग्रवाल के जन्मदिन में आयोजित समारोह

जीरो शेडो डे साल में दो बार होता है. ये पृथ्वी के सूरज के चारों ओर घुमने की वजह से ये घटना होती है। इसकी वजह से लोगों को घबराना नहीं चाहिए। दरअसल, ये कर्क रेखा और मकर रेखा के बीच उन एरिया में होगा जो अक्षांश 23.5 और -23.5 डिग्री के बीच होंगे। इन क्षेत्रों में लोगों को अपनी परछाई नहीं दिखाई देगी। ये शहर के हिसाब से बदलता रहता है। इसी साल 18 अप्रैल को बेंगलुरु में जीरो शैडो डे मनाया गया। अप्रैल में ये दोपहर 12बजकर 17 मिनट पर ये नजारा दिखाई दिया। इसी साल हैदराबाद में भी ये घटना दो बार दिखाई दी। ये 9 मई और 3 अगस्त को 12 बजकर 23 मिनट पर हैदराबाद में दिखाई दिया था जब लोगों की परछाई दिखाई नहीं दे रहा था।

यह भी पढ़ें 👉  मुख्यमंत्री धामी की जनसभा में कमल खिला, जिससे प्रधानमंत्री मोदी पर जनता का भरोसा और भी मजबूत हो रहा है।

भारत 2 हजार से गणना कर रहा

नैनीताल के वरिष्ठ खलोग वैज्ञानिकों का कहना है कि यह घटना  कर्क और मकर रेखा के बीच होती है। कर्क रेखा यानी 23.5 अक्षांश पर 21-22 जून को हर साल दोपहर में परछाई नहीं बनती है। 21 जून को साल का सबसे बड़ा दिन होता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि जीरो शेडो डे खगोलीय लिहाज से भी अहम दिन है। इस दिन का उपयोग पृथ्वी की परिधि मापने का काम किया जाता है। ऐसा केनकुलेशन हमारे खगोलशास्त्री 2000 साल से करते आ रहे हैं।  इसमें पृथ्वी के व्यास और घूर्ण गति मापी जाती है।

यह भी पढ़ें 👉  स्मार्ट समिट देहरादून: जिलाधिकारी सोनिका ने इन्वेस्टर समिट की तैयारियों के लिए एयरपोर्ट जौलीग्रांट से दिलाराम चौक तक निरीक्षण करते हुए निर्माण और सौंदर्यीकरण कार्यों का मूल्यांकन किया और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किए।

इन स्थानों पर दिखाई देगा

आज 18 अगस्त के दिन मंगलौर, बंटवाल, सकलेशपुर, हासन, बिदादी, बेंगलुरु, दशरहल्ली, बंगारपेट, कोलार, वेल्लोर, अरकोट, अराक्कोनम, श्रीपेरंबटूर, तिरुवल्लुर, अवाडी, चेन्नई जैसे स्थानों पर ये नजारा दिखाई देगा।

Most Popular

To Top