उत्तराखंड

भू माफिया और गलत नीयत से जूझेंगे: उत्तराखंड में जमीन खरीद पर सरकार का सख्त संकेत

Enter ad cod

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि बाहरी लोगों के उत्तराखंड में भूमि खरीद पर रोक लगेगी। देवभूमि में खेती व बागवानी के नाम पर धड़ल्ले से जमीनों की खरीद-बिक्री की पुष्ट सूचना के बाद यह सख्ती की गई है। यह रोक भू माफिया व गलत नीयत से जमीन खरीदने वालों के लिए है। यदि कोई व्यक्ति व्यवसाय उद्योग या किसी अन्य स्टार्टअप के लिए जमीन लेना चाहता है।

 

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि बाहरी लोगों के उत्तराखंड में भूमि खरीद पर रोक लगेगी। देवभूमि में खेती व बागवानी के नाम पर धड़ल्ले से जमीनों की खरीद-बिक्री की पुष्ट सूचना के बाद यह सख्ती की गई है। यह रोक भू माफिया व गलत नीयत से जमीन खरीदने वालों के लिए है।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking:PM के नेतृत्व में सहकारिता विभाग ने उत्तराखंड मे किया दुनिया की सबसे बड़ी अनाज भंडारण सुविधा का उद्घाटन

यदि कोई व्यक्ति व्यवसाय, उद्योग या किसी अन्य स्टार्टअप के लिए जमीन लेना चाहता है, जिससे स्थानीय लोगों को भी लाभ मिले तो उसका उत्तराखंड में स्वागत है। यह पहला मौका नहीं है जब राज्य हित में सख्त निर्णय लिया गया है। इससे पूर्व मतातंरण कानून व नकल विरोधी कानून लाया गया और सरकारी भूमि पर अतिक्रमण के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की गई है। जल्द समान नागरिक संहिता भी लागू होगी।

यह भी पढ़ें 👉  प्रधानमंत्री के मन की बात,जनजागरण का एक सशक्त माध्यम:धामी

मंगलवार को मुख्यमंत्री धामी ने कपकोट के केदारेश्वर मैदान में चेलि-ब्वारयूं कौतिक (मातृशक्ति सम्मेलन) को संबोधित किया। इस दौरान 99.78 करोड़ रुपये की विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। कहा कि मातृशक्ति के बिना विकास की कल्पना अधूरी है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के लक्ष्य को आगे बढ़ाते हुए उत्तराखंड चहुमुंखी विकास कर रहा है। कन्यादान से पहले बेटी को शिक्षित करने के साथ ही आत्मरक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाएं। महिलाओं को सुरक्षा के साथ सशक्तीकरण की दिशा में आत्मनिर्भर बना रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  गजब:नई थम रहा ऋषिकेश मे अवैध निर्माण का कारोबार,विभाग पर लग रहे आरोप

प्रधानमंत्री का उत्तराखंड के लिए विशेष आशीर्वाद है। 10 वर्षों में केंद्र से 1.5 लाख करोड़ की योजनाएं मिली हैं। एक जिला एक उत्पाद, जिओ टैग भी दिया है। नकल अध्यादेश लागू कर हमने नकल माफिया की कमर तोड़ी है।

उत्तराखंड को वेडिंग डेस्टिनेशन बनने की दिशा में काम रहे हैं। सीएम ने नौ देवियों के पैर धोकर पूजा की और विभिन्न स्थानीय उत्पादों से सजे स्टालों का निरीक्षण कर उत्साहवर्धन किया।

Most Popular

To Top