उत्तराखंड

उत्तराखंड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023: नैनीताल और उधमसिंह नगर के निवेशकों के साथ 27 हजार करोड़ के MoU

Uttarakhand Global Investors Summit 2023 रुद्रपुर में आज उत्तराखंड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 के तहत क्षेत्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शिरकत की. इस दौरान उन्होंने सभी निवेशकों का का आभार जताया.

 उत्तराखंड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 के तहत आज रुद्रपुर में क्षेत्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया. जिसमें सीएम पुष्कर सिंह धामी ने शिरकत की. इस दौरान सीएम ने सभी उद्योग मित्रों का आभार जताते हुए संबोधन किया और कहा कि जिस तरह विदेशी जमीन पर सरकार को निवेशकों का सहयोग और सर्मथन मिला. उसी तरह आप सभी को यहां भी सहयोग और समर्थन दिया जाएगा. सीएम धामी ने कहा कि हमारे सभी उद्यमी राज्य के ब्रांड एंबेसडर हैं.

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने यह दो दिवसीय संवाददात्मक बैठक में किया प्रतिभाग,

उत्तराखंड ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 के तहत रुद्रपुर में आयोजित किए गए क्षेत्रीय सम्मेलन में, निजी होटल में हुआ विशेष आयोजन। इस महत्वपूर्ण सम्मेलन में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सहित कई उद्योग मित्रों और प्रतिनिधियों के साथ-साथ भाग लिया। इसके अलावा, कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य, क्षेत्रीय विधायक शिव अरोड़ा, और लालकुआं विधायक मोहन सिंह बिष्ट भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

सीएम धामी ने संबोधित करते हुए कहा कि विदेशी जमीन पर निवेशकों का सहयोग और सर्मथन मिला. उसी तरह आप सभी का भी सहयोग और समर्थन हमें मिलेगा. उन्होंने कहा कि हमारे सभी उद्यमी राज्य के ब्रांड एम्बेसडर हैं. उत्तराखंड में निवेश बढ़ेगा तो रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. अवसर बढ़ेंगे तो उत्तराखंड से बेरोजगारी भी कम होगी. उन्होंने कहा कि सरलीकरण, समाधान, निस्तारिकरण और संतुष्टि के मूल सिद्धांत को अपनाकर राज्य ने ईज ऑफ डूंड्रग बिजनेस के क्षेत्र में अभूतपूर्व प्रगति की है. राज्य में लाइसेंस आदि के अनुमोदनों के लिए ‘सिंगल विंडो सिस्टम’ की व्यवस्था में सुधार किया गया है तथा व्यवसाय की स्थापना और संचालन के लिए आवश्यक सभी स्वीकृतियों के लिए व्यवस्था प्रारंभ की गई है.

यह भी पढ़ें 👉  “बिल लाओ इनाम पाओ योजना“ के तहत निकाले गये मार्च 2024 के विजेताओं के लक्की ड्रा 

उन्होंने कहा कि हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर जिले में 6 हजार एकड़ लैंड उपलब्ध है. हम वास्तव में काम करना चाहते हैं और निवेशकों को राज्य में क्या-क्या और किस प्रकार की सुविधाएं व व्यवस्थाएं चाहिए, उनपर भी विस्तार से कार्य किया जा रहा है. उद्यमियों के साथ कम्यूनिकेशन स्थापित किया गया है. राज्य स्तरीय उद्योग मित्र समूह की बैठक में रखी गई समस्याओं में से 99 प्रतिशत का समाधान किया जा चुका है. उन्होंने बताया कि नैनीताल की 139 इकाइयों के 4312.90 करोड़ और उधमसिंह नगर के 295 इकाइयों के 23163.77 करोड़ के एमओयू हुए हैं.

यह भी पढ़ें 👉  चारधाम धाम यात्रा करने के लिए बुजुर्गों व युवाओं के साथ बच्चों में उत्साह, देखें आकंड़े

Most Popular

To Top