उत्तराखंड

गजब:नियमों को ठेंगा दिखाने वाले बिल्डर ने आज दूजे का आशियाना उजाड़ दिया

ऋषिकेश। ऋषिकेश मे अवैध निर्माण कार्यों का रिवाज़ बना हुआ है। लेकिन सम्बंधित विभाग कार्रवाई करने मे लापरवाही बरते हुआ है। ऐसे मे जिम्मेदार महकमो पर मिलीभगत के आरोप भी लग रहे हैं।

हैरत की बात यह है कि नीचे से लेकर ऊपर तक के जिम्मेदारों को क्या ऐसा प्रलोभन है कि शिकायतों के बाद भी ऐसे माफियाओ पर नकेल नहीं कसी जा रही है।

सोमवार को एक बिल्डर की करतूत से बड़ा हादसा होने से टल गया, भले ही कोई जान का नुकसान न हुआ हो लेकिन एम्स रोड पर एक चाय की दुकान का लिंटर और दीवार भरभरा कर गिर गई। दुकान में मौजूद तीन लोगों ने भाग कर अपनी जान बचाई। यह घटना तब हुई जब दुकान के बगल में खाली पड़े प्लॉट पर एक बिल्डर जेसीबी से खुदान कर रहा था। घटना के बाद बिल्डर के आदमी मौके से फरार हो गए। पुलिस ने जेसीबी को कब्जे में लेते हुए ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है।

यह भी पढ़ें 👉  “बिल लाओ इनाम पाओ योजना“ के तहत निकाले गये मार्च 2024 के विजेताओं के लक्की ड्रा 

दुकान संचालक ने बताया कि तीन चार दिन से लगातार खाली प्लॉट पर जेसीबी से खुदाई का काम किया जा रहा है। जिस दिन से खुदाई का काम शुरू हुआ है तभी से खुदाई करने वालों को बताया गया कि जेसीबी उनकी दीवार की नींव को भी धीरे-धीरे खोद रही है। जिससे दुकान को खतरा पैदा हो गया है। बावजूद इसके खुदाई करने वालों ने उनकी बात पर ध्यान नहीं दिया। नतीजा यह रहा कि आज उनकी दुकान की दीवार और लिंटर अचानक गिर पड़ा। गनीमत रही कि वह समय रहते दुकान से बाहर निकल गए और दुकान में फंसे दो बच्चों को भी तत्काल बाहर निकाल लिया। यदि कुछ देर होती तो किसी की जान भी जा सकती थी। दुकान की दीवार गिरते ही मौके पर मौजूद खुदाई करने वाले फरार हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर आई जेसीबी को पुलिस ने अपने कब्जे में लिया और चालक को भी हिरासत में ले गई। दुकान संचालक ने बताया कि वह पुलिस को लिखित रूप से शिकायत देकर खुदान करने वालों से मुआवजा दिलाने की मांग करने जा रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि प्लॉट में जेसीबी से खुदान बिना परमिशन के किया जा रहा था।

यह भी पढ़ें 👉  कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री धामी ने दिए अधिकारियों को सख्त निर्देश,जमीनों की खरीद फरोख्त पर होगी नज़र

Most Popular

To Top