उत्तराखंड

बोक्सा जनजाति के लाभार्थियों के साथ संवाद का आयोजन, जनपद पौड़ी गढ़वाल में सरकारी योजनाओं की बढ़ाई जाएगी उपयोगिता

प्रधानमंत्री पीएम-जनमन के तहत बोक्सा जनजाति के लाभार्थियों के साथ 15 जनवरी, 2024 को वर्चुअल संवाद करेंगे। भारत सरकार द्वारा कोटद्वार के अंतर्गत हल्दूखाता मल्ला व लच्छमपुर को चयनित किया है।
जिलाधिकारी डॉ0 आशीष चौहान ने एनआईसी कक्ष में प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को बोक्सा जनजाति क्षेत्र का निरीक्षण करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि बोक्सा क्षेत्र में सर्वे करते हुए वहां केंद्र सरकार की योजनाओं से हुए लाभान्वित परिवारों व जो परिवार योजनाओं का लाभ लेने से वंचित रह गये हैं उनकी रिपोर्ट भी उपलब्ध कराएं। जिससे वंचित रह गये परिवारों को योजनाओं से लाभाविंत किया जा सकेगा।
जिलाधिकारी ने कहा कि 15 जनवरी को कोटद्वार के हल्दूखाता मल्ला व लच्छमपुर में जनमन के तहत प्रधानमंत्री जी बोक्सा जनजाति के लाभार्थियों से संवाद करेंगे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को कार्यक्रम स्थल का चयन करते हुए वहां एलईडी, विघुत व्यवस्था, पेयजल, बैठने की व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्थाएं पूर्ण करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने ग्राम विकास विभाग, शिक्षा, स्वास्थ्य, बाल विकास, विद्युत सहित अन्य विभागों को बोक्सा जनजाति के लोगों को केंद्र की योजनाओं से लाभान्वित करने के निर्देश दिये हैं।

यह भी पढ़ें 👉  गढ़वाल लोकसभा सांसद अनिल बलूनी के पहुँचे बडोनी चौक, महापौर ने किया भव्य स्वागत

बैठक में बताया कि भारत सरकार द्वारा जनपद पौड़ी गढ़वाल के बोक्सा जनजाति क्षेत्र कोटद्वार तहसील अंतर्गत हल्दूखाता मल्ला व लच्छमपुर को चयनित किया गया है। 2011 जनगणना के अनुसार हल्दूखाता मल्ला में 40 परिवार के 242 सदस्य व लच्छमपुर में 45 परिवारों के 218 सदस्य निवासरत हैं।
बैठक में जिला विकास अधिकारी मनविन्दर कौर, मुख्य शिक्षाधिकारी दिनेश चंद्र गौड़, मुख्य कृषि अधिकारी अश्विन गौतम, जिला समाज कल्याण अधिकारी विनोद उनियाल, एसीएमओ डॉ0 रमेश कुंवर, जिला उद्यान अधिकारी राजेश तिवारी, लीड बैंक अधिकारी अनिल कटारिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  शुभकामनायें:कृषिमंत्री ने लोक सेवा आयोग से चयनित अभ्यर्थियों को बांटे नियुक्ति पत्र

Most Popular

To Top