उत्तराखंड

धर्म: श्री झण्डे जी महोत्सव में आखिरी रविवार को दर्शनों के लिए भारी संख्या में उमड़े श्रद्धालु

देहरादून। श्री झण्डे जी महोत्सव के इस वर्ष के अंतिम रविवार में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ श्री दरबार साहिब में उमड़ी। रविवार सुबह से ही श्री दरबार साहिब एवम् श्री झण्डा साहिब पर श्रद्धालुओं एवम् संगतों की चहल पहल बढ़ने लगी थी। श्रद्धालुओं एवम् संगतों ने श्रद्धाभाव के साथ मन्नत मनौतियां मांगी। उन्होंने श्री दरबार साहिब एवम् श्री झण्डे जी पर माथा टेका और पुण्य अर्जित किया। काबिलेगौर हे कि 17 अप्रैल रामनवमी के दिन इस वर्ष का श्री झण्डा जी महोत्सव सम्पन्न हो जाएगा। श्री दरबार साहिब के सज्जादा गद्दी नशीन श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने संगतों को दर्शन दिए और आशीर्वाद दिया।
शनिवार को बैसाखी का अवकाश व अगले दिन रविवार होने के कारण देहरादून व आसपास के क्षेत्रों से भारी संख्या में श्रद्धालु श्री झण्डे जी मेले के लिए आने शुरू हो गए थे। 30 मार्च को श्री झण्डे जी आरोहण के बाद दून के ऐतिहासिक श्री झण्डे जी महोत्सव का आगाज हो चुका है। देश विदेश से आई संगतें श्री झण्डे जी आरोहण कर अपने अपने गृह जनपदों को वापिस जा चुकी हैं। अब देहरादून व आसपास के क्षेत्रों से श्रद्धालु श्री झण्डे जी पर माथा टेकने पहुंच रहे हैं और मेले की रौनक में चार चांद लगा रहे हैं। श्री दरबार साहिब में संगतों के लिए लंगर प्रसाद की व्यवस्था की गई थी।
काबिलेगौर है कि श्री दरबार साहिब के इतिहास के साथ देहरादून के नाम का इतिहास भी छिपा हुआ है। देश विदेश की संगतों के साथ साथ दूनवासियों की भी श्री दरबार साहिब एवम् श्री झण्डा साहिब पर अटूट आस्था है। श्री झण्डे जी आरोहण के बाद देहरादून नगर व आसपास के क्षेत्रों से भारी संख्या में श्रद्धालु श्री दरबार साहिब एवम् श्री झण्डे जी पर माथा टेकने पहुंचते हैं। श्री झण्डे जी महोत्सव के उपलक्ष्य में लगा बाजार इन दिनों दूनवासियों से गुलजार है। रविवार को मेले में जुटी भीड़ देखकर मेला व्यापारियों के चेहरे दिन भर खिले रहे। मेले मंे आए लोगों ने मेला बाजार व मेले में लगे झूलों का मन भरकर आनन्द उठाया।
 श्री दरबार साहिब स्थित पवित्र सरोवर जीर्णोद्धार के बाद और भी खूबसूरत हो गया है। रात के समय पवित्र सरोवर की आभा देखते ही बन रही है। आकर्षक रोशनी की चकाचैंध ने पवित्र सरोवर की आभा को अद्भुत, अतुलनीय बना दिया है।
यह भी पढ़ें 👉  निर्देश:धामी के ग्राउंड पर उतरते ही व्यवस्था हुई दुरस्त

Most Popular

To Top