उत्तराखंड

उत्तराखंड एसटीएफ को मिली बड़ी कामयाबी, 3.6 करोड़ रुपये की स्मेक के साथ एक गिरफ्तार



देहरादून। उत्तराखंड एसटीएफ की एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स और थाना डोईवाला पुलिस की संयुक्त टीम ने आज हरिद्वार रोड पर विंडलास रीवर वैली हरिद्वार रोड के पास से एक व्यक्ति गजराज सिंह पुत्र रामस्वरूप सिंह निवासी वार्ड नंबर 11, देवीनगर, थाना पोंटा साहिब, जनपद सिरमौर हिमाचल प्रदेश को 1 किलो 200 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया गया। पकड़ी गई स्मैक की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 3.6 करोड़ रुपये बताई जा रही है। एसटीएफ द्वारा उत्तराखंड में स्मैक की अभी तक की यह सबसे बड़ी बरामदगी बताई जा रही है।
अभियुक्त गजराज ने पूछताछ में बताया कि वह इस स्मैक को वह धामपुर, उत्तर प्रदेश से लेकर आया था। अभियुक्त से पूछताछ में यह भी पता चला कि बरेली का तस्कर धामपुर तक स्मैक को पहुंचाता था तथा यहां से पकड़ा गया अभियुक्त गजराज इस माल को आगे पोण्टा साहिब और देहरादून में अपने एजेण्टों के माध्यम से बेचता था।
अभियुक्त से पूछताछ में एसटीएफ को अन्य कई ड्रग्स तस्करों के नाम की जानकारी मिली है, जिन पर भी कार्रवाई की जा रही है। पकड़ा गया अभियुक्त गजराज पोण्टा साहिब में पेण्ट के ब्रुश बनाने का काम करता है। वह पिछले दो सालों से बरेली व धामपुर से स्मैक लाकर पोण्टा साहिब और देहरादून में अपने फिक्स एजेण्टों को सप्लाई कर रहा था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने एएनटीएफ को 25 हजार रुपये नगद ईनाम देने की घोषणा की है।
उल्लेखनीय है कि एएनटीएफ इस वर्ष अब तक 36 तस्करों को गिरप्तार कर 04.441 किग्रा स्मैक, 19.808 किग्रा चरस, 5.322 किग्रा अफीम, 300 किग्रा डोडा पोस्त बरामद कर चुकी चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  Breaking:वन महकमे मे ताबड़तोड़ तबादले, पढ़ें कौन कंहा गया 

Most Popular

To Top