उत्तराखंड

मुनिकीरेती में राजनीतिक वापसी: योगेश राणा का नया अध्याय

 

तीर्थ चेतना न्यूज

मुनिकीरेती। क्षेत्र में जनता के बीच अच्छी पकड़ रखने वाले योगेश राणा की राजनीतिक तौर पर घर वापसी हो गई। यानि राणा फिर से भाजपा में शामिल हो गए।

2018 के निकाय चुनाव में मुनिकीरेती नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिए भाजपा में उनकी टिकट लगभग पक्का हो गया था। अंतिम समय में टिकट रोशन रतूड़ी को दे दिया गया। नाराज राणा और उनके समर्थक चुपचाप किनारे हो गए। 2022 के विधानसभा चुनाव योगेश राणा और उनके समर्थकों का असर भी देखने को मिला।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी ख़बर:लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी देश के नए सेना प्रमुख

योगेश राणा भले ही भाजपा से अलग रहे है। मगर, उन्होंने कभी भी मंचों पर पार्टी पर निशाने नहीं साधे। यही वजह है कि लंबे समय से भाजपा के कई नेता उन्हें फिर से पार्टी में शामिल करने के लिए प्रयासरत थे। आखिरकार रविवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भटट ने उन्हें फिर से भाजपा में शामिल कर दिया।

यह भी पढ़ें 👉  शुभकामनायें:कृषिमंत्री ने लोक सेवा आयोग से चयनित अभ्यर्थियों को बांटे नियुक्ति पत्र

बड़ी संख्या में उनके समर्थक भी अब भाजपाई हो गए। अब माना जा रहा है कि भाजपा 2018 में योगेश राणा के साथ हुए अन्याय की भरपाई आसन निकाय चुनाव में कर सकती है। स्थानीय स्तर पर बड़ी संख्या में भाजपाई भी योगेश राणा के साथ सहज महसूस करते हैं। गत निकाय चुनाव में भी ऐसा देखा और महसूस किया गया था।

यह भी पढ़ें 👉  पहल:एम्स ऋषिकेश ने लाॅन्च किया ’क्लाइमेट न्यूजलेटर’

भाजपा में शामिल होने के बारे में योगेश राणा ने बताया कि उन्होंने घर वापसी की है। अब राजनीतिक तौर पर उनकी क्या भूमिका होगी ये पार्टी तय करेगी।

Most Popular

To Top