उत्तराखंड

उत्तरकाशी में महिलाओं ने मुख्यमंत्री को बांटी लाल धान की बालियाँ, परंपरागत तरीके से की कटौती

Enter ad cod

उत्तरकाशी में कुछ अलग रंग में नजर आए मुख्यमंत्री धामी चरखा चलाया, पारंपरिक तरीके से की लाल धान की कुटाई

उत्तरकाशी , उत्तराखंड के मुख्यमंत्री आज उत्तरकाशी पहुंचे जिनसे मिलने बड़ी संख्या में ग्रामीण क्षेत्र से महिलाएं पहुंची थी , मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दीदी भुली महोत्सव में वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट में हाल ही में देश में दूसरे स्थान का सम्मान पाने वाले लाल धान की जानकारी ली। इस दौरान मुख्यमंत्री ने लाल धान का उत्पादन करनी वाली महिलाओं ने मुख्यमंत्री को लाल धान की बाली भेंट की। मुख्यमंत्री ने महिलाओं के साथ लाल धान की कुटाई पारंपरिक ओखली यानी उलख्यारे में गिंज्याली (मूसल) थामकर की है। साथ ही लाल धान के चूड़ा बनाने की जानकारी ली।
मुख्यमंत्री ने चलाया चरखा, ऊन की कताई की

यह भी पढ़ें 👉  आपत्ति:नये कुलाधि पति के शपथ के बाद,इस जगह निराशा ऐसा क्यों पढ़ें,,

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दीदी भुली महोत्सव में शिरकत कर डुंडा और बगोरी क्षेत्र के पारंपरिक ऊन की कताई करने वाले चरखा को चलाया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने करीब ऊन की कताई कर पारंपरिक ऊनी वस्त्रों को बढ़ावा देने का संदेश दिया। साथ ही डुंडा और बगोरी से पहुंची महिलाओं को चरखा चलाने और ऊन कताई की जानकारी ली।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी पहुंचे उत्तरकाशी, रोड शो में उमड़ा भारी जनसमूह…

यह भी पढ़ें 👉  CM धामी 21 को दून में साहित्यकारों को सम्मानित करेंगे

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सोमवार को उत्तरकाशी पहुंचे हैं। उत्तरकाशी स्थित तांबा खानी से डेढ़ किलोमीटर के रोड़ शो किया। इस के बाद सीएम धामी रामलीला मैदान में आयोजित दीदी-भुली महोत्सव का शुभारंभ किया।

यह भी पढ़ें 👉  हरदा:राज्य सरकार कर रही. उपनल की अनदेखी

इस दौरान गंगा -यमुना घाटी के ढोल-दमाऊं,नृत्य के साथ रोड शो में भारी जनसमूह मौजूद रहा जो कि मुख्यमंत्री के काफिले के साथ आगे बढ़ा।इसके अलावा विभिन्न विकासपरक योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया।

 

 

Most Popular

To Top