उत्तराखंड

केदारनाथ-यमुनोत्री – गंगोत्री धाम के कपाट खुलते ही चारधाम यात्रा की शुरूआत, प्रशासन ने की ये व्यवस्था

उत्तराखंड में आज से विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा की शुरूआत हो गई है। आज से शुरू हुई उत्तराखंड की चारधाम यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में अपार उत्साह है.  केदारनाथ धाम के साथ ही यमुनोत्री और गंगोत्री धाम के कपाट भी श्रद्धालुओं के लिए आज से खुल गए हैं। इस अवसर पर बड़ी संख्या में धाम पहुंचे श्रद्धालुओं ने धामों के दर्शन कर सुख-समृद्धि के लिए मनौतियां मांगी। सीएम धामी खुद केदारनाथ धाम में मौजूद रहे. केदारनाथ आए तीर्थयात्रियों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई। अब श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 12 मई को प्रातः छः बजे श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ के लिए खुले जाएंगे। जिसको लेकर तैयारियां चल रही है।

‘जय बाबा केदार’ के जयकारों से गूंजी केदारपुरी

बता दें कि ग्यारहवें ज्योतिर्लिंग केदारनाथ धाम के कपाट आज विधि विधान के साथ वृष लग्न में खोल दिए गए हैं। इस मौके पर मंदिर को 24 क्विंटल फूलों से सजाया गया। आज सुबह 7 बजकर 15 मिनट पर वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ बाबा केदार के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए खोले गए। इस दौरान पूरी केदारपुरी ‘बम-बम भोले’, ‘जय बाबा केदार’ के जयकारों से गूंज उठी। सबसे पहले प्रशासन की मौजूदगी में मुख्य द्वार का ताला खोला गया। इसके बाद गर्भ गृह का द्वार खोल दिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  होशियार:ऋषिनगरी मे डिफेन्स की नकली शराब,लोगों की सेहत से खिलवाड़, वीडियो

बाबा केदार की आरती और भोग प्रसाद व्यवस्था होगी शुरू

गर्भगृह में रावल और मुख्य पुजारी की ओर से पूजा अर्चना के साथ ही आम दर्शन शुरू कर दिए गए. पहले दिन सुबह से शाम 5 बजे तक लगातार दर्शन जारी रहेंगे. इसके बाद 11 मई शनिवार को केदारनाथ में रक्षक देवता के रूप में भगवान भैरवनाथ के कपाट खुलने के साथ ही केदारनाथ मंदिर में बाबा केदार की आरती और भोग प्रसाद व्यवस्था शुरू हो जाएगी।

श्रद्धालुओं के लिए खोले गए यमुनोत्री-गंगोत्री धाम के कपाट

वहीं उत्तरकाशी स्थित यमुनोत्री धाम के कपाट भी विधि विधान से दर्शनार्थ के लिए खोल दिए गए हैं, इससे पूर्व प्रातः 7 बजे बाबा केदारनाथ के कपाट भी खोल दिए गए थे। यमुनोत्री धाम के कपाट प्रातः10 बजकर 29 मिनट पर श्रद्धालुओं के लिए खोले गए। गंगोत्री धाम के कपाट अक्षय तृतीया पर अभिजीत मुहूर्त में दोपहर 12.25.बजे मंदिर समिति और मंदिर के मुख्य पुजारी व स्थानीय प्रशासन की मौजूदगी में खोले गए।

यह भी पढ़ें 👉  पति के संग सात फेरे लेने वाली पत्नी ने ही की पति की निर्मम हत्या

चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं का नया रिकॉर्ड बनने की उम्मीद

चारधाम यात्रा के लिए अब तक 22 लाख से अधिक श्रद्धालु पंजीकरण करा चुके हैं। पंजीकरण के आंकड़े को देखते हुए इस बार भी प्रदेश सरकार को चारधाम यात्रा में श्रद्धालुओं का नया रिकॉर्ड बनने की उम्मीद है। तो वहीं इस बार यातायात के सफल संचालन के लिए जिला मुख्यालय से सोनप्रयाग तक 2 सुपर जोन, 3 जोन और 11 सेक्टरों में बांटा गया है।

12 मई को खुलेंगे बाब बदरी के कपाट

श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 12 मई को प्रातः छः बजे श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खुल रहे है। श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति द्वारा कपाट खुलने हेतु व्यापक तैयारियां की जा रही है। कपाट खुलने की तैयारियों की प्रक्रिया के तहत बृहस्पतिवार को जोशीमठ में प्राचीन गरूड़ छाड़ मेला संपन्न हो गया । श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गोड़ ने बताया कि पांडुकेश्वर में रात्रि प्रवास के पश्चात कल 11 मई को योग बदरी पांडुकेश्वर से श्री उद्धव जी एवं श्री कुबेर जी सहित आदि गुरू शंकराचार्य जी की पवित्र गद्दी तथा श्री बदरीनाथ धाम के रावल के साथ गाडू घड़ा तेल कलश यात्रा शायंकाल को श्री बदरीनाथ धाम पहुंचेगी।

यह भी पढ़ें 👉  Rishikesh AIIMS में नर्सिंग आफिसर्स को अभद्र भाषा बोलने पर फिर हुआ बवाल

एक दिन में जानें कितने लोग कर सकते है दर्शन

पर्यटन सचिव सचिन कुर्वे के मुताबिक एक दिन में 15 हजार श्रद्धालु केदारनाथ धाम, 16 हजार लोग बद्रीनाथ धाम, 9 हजार श्रद्धालु यमुनोत्री तो 11 हजार लोग गंगोत्री में दर्शन कर सकेंगे। यानी चारों धाम में रोजाना 51 हजार लोग दर्शन करेंगे। कपाट खुलने के दौरान इन धामों पर दिन का तापमान 0 से 3 डिग्री दर्ज किया जा रहा है। वहीं, रात में पारा माइनस में पहुंच रहा है।

Most Popular

To Top