उत्तराखंड

प्रदेश में एडवेंचर-टूरिज्म को दिया जाएगा बढ़ावा, बनेगी 27 नई पॉलिसी

वैश्विक सम्मेलन के रोड शो के बाद प्रदेश का पहला क्षेत्रीय निवेशक सम्मेलन रुद्रपुर में हुआ। इस मौके पर सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि देश-विदेश में कई करोड़ों के करार होने के बाद उत्तराखंड में 12,000 करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव और मिल चुका है। राज्य ने कुल डेढ़ लाख करोड़ रुपये निवेश पर करार किया है।

नैनीताल हाईवे स्थित एक होटल में बुधवार को ग्लोबल इंवेस्टर समिट के तहत आयोजित क्षेत्रीय निवेशक सम्मेलन में पहुंचे सीएम ने कहा कि उद्योगों के विकास-विस्तार और नए उद्योग लगाने के लिए लंदन, दुबई, चेन्नई, बंगलूरू,  अहमदाबाद के उद्योगपतियों से संपर्क किया है।

यह भी पढ़ें 👉  महंत देवेन्द्र दास ने अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर देशवासियों को दी बधाई, दिया ये संदेश

उत्तराखंड में निवेश के लिए उद्योगपति मुकेश अंबानी से भी वार्ता की गई है। प्रदेश में आईटीसी कंपनी, महिंद्रा अशोक लेलैंड आदि कंपनियां निवेश करेंगी। उन्होंने कहा कि पर्यटन और उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए 27 नई पॉलिसी बनाई जा रही हैं। प्रदेश में एडवेंचर-टूरिज्म को बढ़ावा दिया जाएगा। उन्होंने इस बात पर भी खुशी जताई कि प्रदेश का पहला सम्मेलन उनके गृहक्षेत्र में हुआ है। सीएम ने कहा कि उद्योगपति उत्तराखंड के ब्रांड एंबेसडर हैं। उद्योग समूह के लोगों के योगदान से 21वीं सदी का तीसरा दशक उत्तराखंड का है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार और यूएस नगर में 6000 एकड़ लैंड बैंक उपलब्ध है। जो प्रस्ताव राज्य के लिए अनुकूल होंगे, ऐसे प्रस्तावों को प्राथमिकता दी जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादूनः डीएम ने की हरित देहरादून पहल’ की शुरुआत, आमजन से की ये अपील

राज्य में मौसम, वायु सहित सभी परिस्थितियां उद्योगों के अनुकूल: सीएम ने कहा कि राज्यतंत्र की जिम्मेदारी है कि जिसे भी उद्योग लगाने के लिए कह रहे हैं, उनकी ऑनरशिप लेनी पड़ेगी। दुबई में आई बाढ़ पर उन्होंने कहा कि वह मैनमेड देश है लेकिन उत्तराखंड गॉड मेड है। दिल्ली में एक्यूआई अधिक है, लेकिन राज्य में मौसम, वायु सहित सभी परिस्थितियां उद्योगों के अनुकूल हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कल धामी कैबिनेट की बैठक, तैयारियां तेज

Most Popular

To Top