उत्तराखंड

जिलाधिकारी सोनिका की अध्यक्षता में ऋषिपर्णा सभागार में जनसुनवाई का आयोजन किया गया।

देहरादून: जिलाधिकारी सोनिका की अध्यक्षता में ऋषिपर्णा सभागार में जनसुनवाई का आयोजन किया गया। जिसमें आज 86 शिकायतें प्राप्त हुई। अधिकतर शिकायतें भूमि सम्बन्धित थी। इसके अलावा जल संस्थान, आपसी विवाद, समाज कल्याण, पीएमजीएसवाई, आय प्रमाण पत्र, शिक्षा, एमडीडीए, पीएमजीएसवाई, लद्यु सिंचाई, विद्युत आदि शिकायतें शामिल थी। हरिद्वार से संबंधित एक प्रकरण जिलाधिकारी ने दूरभाष पर डीएम हरिद्वार से वार्ता कर शिकायतकर्ता की समस्या के निस्तारण का अनुरोध किया।

जनसुनवाई में डांडा लखौण्ड में भूमि अतिक्रमण, अवैध कब्जे की अधिक शिकायत आने पर तहसीलदार सदर को को स्थलीय निरीक्षा करते हुए आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। एक शिकायतकर्ता द्वारा सुद्धोवाला में स्वामित्व में नाम अंकित न होने की शिकायत पर तहसीलदार विकासनगर को आज ही रिपोर्ट प्रस्तुत करने व यदि निस्तारण उच्च स्तर पर होना हो तो सम्बन्धित को पत्राचार करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  जांच:महिला के हाथ-पैर ऋषिकेश मे तो धड़ मिला इंदौर मे,जांच शुरू

विकासनगर क्षेत्रान्तर्गत ठाकुरपुर में भूमाफियाओं द्वारा रास्ता बन्द करने, झाझरा में भूमि सम्बन्धी प्रकरणों, दाखिल खारिज न होने, सेवालाकला में सीमांकन न होने की शिकायतों पर को समयान्तर्गत निस्तारण के निर्देश दिए। इसी प्रकार शिकायतकर्ता ने खड़कमाफ क्षेत्र में भारी वर्षा में मकान क्षतिग्रस्त होने पर मुआवजा न मिलने की शिकायत पर उप जिलाधिकारी ऋषिकेश को दूरभाष पर कार्यवाही के निर्देश दिए। ग्राम अशोई चकराता में जलसंस्थान द्वारा कराये गए कार्यों में गुणवत्ता न होने की शिकायत पर मुख्य विकास अधिकारी को जांच करवाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  बुलेटिन:सुबह देश राज्यों से बड़ी खबरें,फटाफट

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी झरना कमठान, अपर मुख्य नगर अधिकारी नगर निगम बीर सिंह बुदियाल, पुलिस अधीक्षक क्राइम मिथिलेश कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ संजय जैन, उप जिलाधिकारी युक्ता मिश्रा, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ विद्याधर कापड़ी, मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ मीनाक्षी जोशी, जिला पूर्ति अधिकारी के.के अग्रवाल, जिला पूर्ति अधिकारी विद्याधर कापड़ी, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी अरविन्द पाण्डेय, तहसीलदार सदर, एमडीडीए, सिंचाई सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  बयान:शपथ लेते ही भाजपा सांसद ने क्यों? कही मंत्री पद छोड़ने की बात

Most Popular

To Top