उत्तराखंड

राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश में नाबालिग ने नवजात को दिया जन्म, महिला आयोग अध्यक्ष ने लिया संज्ञान



शनिवार की रोज एक नाबालिग लड़की द्वारा नवजात शिशु के जन्म देने के मामले में राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने मामले में राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश पहुंचकर नाबालिग लड़की के परिजनों से मिलकर ली जानकारी और उन्होंने चिकित्सालय प्रशासन से नाबालिग व नवजात के स्वास्थ्य की जानकारी लेते हुए नवजात व पीड़िता की पूर्ण देखभाल व उचित उपचार के निर्देश दिए है।

उन्होंने मामले में एसओ रानीपोखरी से मामले में कार्रवाई के निर्देश दिए है जिसपर एसओ ने बताया कि राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश प्रशासन की ओर से एक सूचना भेजी गयी जिस में बताया गया कि चिकित्सालय में रानीपोखरी क्षेत्र की एक नाबालिग ने नवजात शिशु को जन्म दिया है मामले की जांच करने के लिए महिला उप निरीक्षक को चिकित्सालय भेजा गया जिस पर नाबालिक लड़की से पूछताछ और आवश्यक जानकारी जुटाने के बाद पता चला कि घटना रानीपोखरी थाने क्षेत्र की है जिस पर पोक्सो अधिनियम और दुष्कर्म के आरोप में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है तथा आरोपी लड़का फरार है जो कि स्वयं खुद भी नाबालिग है, जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर बाल स्वधार गृह में भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  Big news:केदारनाथ मार्ग पर दरकी चट्टान, मलबे मे दबे तीन इंसान

मामले में महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने जिला प्रोबेशन अधिकारी मीना बिष्ट से फोन पर वार्ता करते हुए है नवजात की देखभाल व सुरक्षा के लिए सीडब्ल्यूसी की टीम को भेजने के लिए निर्देशित किया है।

यह भी पढ़ें 👉  रिचार्ज: र‍िलायंस ज‍ियो ने चुपचाप री लॉन्च किया ये प्लान, जानें अपडेट

जिस पर सीडब्ल्यूसी की टीम ने मौके पर पहुंचकर पीड़ता को बच्चे के पालन न कर पाने की स्तिथि में उसके उपचार व देखरेख के लिए राजकीय शिशु सदन में रखने के लिए प्रस्ताव दिया है। जिसके लिए कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  विवादः मंडी में मामूली कहासुनी से बड़ा विवाद, आढ़ती ने पल्लेदारों पर झोंके फायर

Most Popular

To Top