उत्तराखंड

दुःख:कैलाश दा की अंतिम विदाई में छलके सीएम धामी के आंसू

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने वन विकास निगम के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक कैलाश गहतोड़ी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री धामी ने दिल्ली में पार्टी प्रत्याशी के नामांकन – रोड शो और सरकार की चारधाम यात्रा के सुचारू संचालन हेतु आवश्यक दिशा निर्देश समेत अन्य कार्यक्रमों में कर्तव्यों के निर्वहन के साथ ही अपने मित्र कैलाश गहतोड़ी की अंतिम यात्रा में शामिल होने काशीपुर पहुंचे। मुख्यमंत्री धामी ने गहतोड़ी के कुशल राजनीतिज्ञ और विकास के दृष्टिकोण की प्रशंसा करते हुए भावुक होकर नम आंखों से उन्हें अंतिम विदाई दी।

चंपावत के पूर्व विधायक और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के लिए उप चुनाव में सीट छोड़ने वाले वन विकास निगम के अध्यक्ष कैलाश गहतोड़ी का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे मुख्यमंत्री धामी के राजनीति में बेहद करीबी मित्र रहे हैं। मुख्यमंत्री धामी इन दिनों लोकसभा चुनाव में पार्टी के स्टार प्रचारक के रूप में उत्तरप्रदेश, दिल्ली, बंगाल, दक्षिण भारत समेत अन्य राज्यों में प्रचार कर रहे हैं। आज सुबह मुख्यमंत्री धामी दक्षिण दिल्ली सीट पर पार्टी प्रत्याशी रामवीर सिंह बिधूड़ी के पक्ष में नामांकन रैली में भाग लेने पहुंचे थे। यहां मुख्यमंत्री धामी को पूर्व विधायक कैलाश गहतोड़ी के निधन की दुःखद खबर मिली।
मुख्यमंत्री धामी ने पार्टी संगठन की जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करते हुए राज्य में अगले हफ्ते से शुरू होने वाली चारधाम यात्रा, वनाग्नि की घटनाओं समेत अन्य शासकीय कर्तव्यों पर मातहतों को आवश्यक दिशा निर्देश देने के उपरांत अपने बेहद करीबी और राजनीति में अच्छे दोस्त रहे कैलाश गहतोड़ी को अंतिम विदाई देने उनके काशीपुर स्थित आवास पहुंचे।
मुख्यमंत्री धामी ने गहतोड़ी के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस दौरान परिजनों से मुलाकात कर सांत्वना दी। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि कैलाश गहतोड़ी कुशल राजनीतिज्ञ थे। उनके विकास के विजन के कारण ही वह चंपावत से उप चुनाव लड़े। उन्होंने भावुकता से कहा कि न केवल चंपावत बल्कि राज्य के विकास को लेकर जो सोच गहतोड़ी रखते थे,उनको पूरा करने की जिम्मेदारी हमारी है, यही पूर्व विधायक गहतोड़ी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

यह भी पढ़ें 👉  निर्देश:धामी के ग्राउंड पर उतरते ही व्यवस्था हुई दुरस्त

अंतिम विदाई यात्रा में प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट, पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, अल्मोड़ा के सांसद प्रत्याशी अजय टम्टा, रुद्रपुर विधायक शिव अरोड़ा पार्टी के अन्य पदाधिकारी एवं सैकड़ो की संख्या में कार्यकर्तागणों ने नम आंखों से कैलाश गहतोड़ी को अंतिम विदाई दी।

यह भी पढ़ें 👉  Rishikesh AIIMS में नर्सिंग आफिसर्स को अभद्र भाषा बोलने पर फिर हुआ बवाल

Most Popular

To Top