उत्तराखंड

सीएम धामी ने आर्टिकल 370 पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया स्वागत

सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के निर्णय को बरकरार रखने का फैसला किया है। इस महत्वपूर्ण निर्णय का स्वागत करते हुए, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इसे जम्मू-कश्मीर के लोगों की जीत के रूप में स्वीकार किया है।

देहरादून: आज का दिन जम्मू-कश्मीर के लिए एक महत्वपूर्ण दिन बना रहा है। आज सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले की सुनवाई की, जिसमें उन्होंने इस निर्णय को बरकरार रखा। सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय बेंच ने इस ऐतिहासिक मामले पर सुनवाई की और इस फैसले को पुनर्निर्णय के रूप में बरकरार रखा। इस ऐतिहासिक निर्णय के बाद, जम्मू-कश्मीर पर राजनीतिक प्रतिक्रियाएं आरंभ हो रही हैं। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर खुशी जताई है।

 

यह भी पढ़ें 👉  चारधाम धाम यात्रा करने के लिए बुजुर्गों व युवाओं के साथ बच्चों में उत्साह, देखें आकंड़े

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अनुच्छेद 370 का स्वागत किया। सीएम धामी ने इस निर्णय को जम्मू-कश्मीर के लोगों की जीत के रूप में स्वीकार किया और उन्होंने केंद्र सरकार के इस फैसले को विकास से जोड़ा। उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र की मोदी सरकार सबका साथ, सबका विकास के नारे के साथ काम कर रही है और जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का निर्णय इसी कड़ी में लिया गया है। उन्होंने जम्मू-कश्मीर को मोदी सरकार के विकास कार्यों के लिए स्थानांतरित किया और बताया कि मोदी सरकार ने लगातार जम्मू-कश्मीर के विकास के प्रति समर्पित काम किया है।

यह भी पढ़ें 👉  कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत  ने दीप प्रज्वलित कर किया योगा का शुभारंभ

बता दें आज सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले पर सुनवाई करते हुए इसे बरकरार रखा. इस दौरान सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा राष्ट्रपति के पास जम्मू कश्मीर का फैसला लेने का अधिकार है. उन्होंने कहा 5 अगस्त 2019 को केंद्र सरकार ने ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसला लिया था, जो अब बरकरार रहेगा. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने सितंबर 2024 तक जम्मू कश्मीर में चुनाव कराने की बात कही.

यह भी पढ़ें 👉  देहरादूनः डीएम ने की हरित देहरादून पहल’ की शुरुआत, आमजन से की ये अपील

Most Popular

To Top