उत्तराखंड

बयान:शपथ लेते ही भाजपा सांसद ने क्यों? कही मंत्री पद छोड़ने की बात

दिल्ली। भाजपा की नई सरकार का रविवार को गठन हुआ। 72 सांसदों ने कैबिनेट मंत्री और केंद्रीय राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली। इनमें केरल से बीजेपी के एकमात्र सांसद Suresh Gopi भी शामिल हैं, लेकिन अब उनके पद छोड़ने की संभावना है। शपथ ग्रहण समारोह के बाद एक चैनल से बात करते हुए सुरेश गोपी ने कहा कि उन्हें लगता है कि जल्द ही उन्हें पद से मुक्त कर दिया जाएगा।

सुरेश गोपी का बयान
Suresh Gopi ने कहा कि उन्होंने मंत्री पद नहीं मांगा है। पद छोड़ने की वजह बताते हुए उन्होंने कहा, “मैंने कई फिल्में साइन की हैं और उन्हें पूरा करना है। मैं त्रिशूर के सांसद के रूप में काम करूंगा।” सुरेश गोपी ने साफ किया कि वह केवल सांसद के रूप में अपने क्षेत्र के लिए काम करना चाहते हैं और उन्हें मंत्री पद की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि उन्होंने यह पद नहीं मांगा था और वह जल्द ही इस पद से मुक्त हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि वह अपनी फिल्मों को किसी भी कीमत पर पूरा करना चाहते हैं और त्रिशूर के लोगों के लिए काम करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तरांचल पंजाबी महासभा के संस्थापक की दसवीं पुण्यतिथि पर दी श्रद्धांजलि, कही ये बात

केरल में बीजेपी के पहले सांसद
लोकसभा चुनाव 2024 में बीजेपी ने केरल में पहली बार जीत हासिल की। सुरेश गोपी ने बीजेपी के टिकट पर त्रिशूर से चुनाव लड़ा और 74,686 वोटों से जीत हासिल की। इस सीट पर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) ने वी एस सुनील कुमार को मैदान में उतारा था, जिन्हें सुरेश गोपी ने हराया।

यह भी पढ़ें 👉  “बिल लाओ इनाम पाओ योजना“ के तहत निकाले गये मार्च 2024 के विजेताओं के लक्की ड्रा 

मोदी को प्रधानमंत्री नहीं देखना चाहता आरएसएस

सुरेश गोपी फिल्म स्टार
सुरेश गोपी, लोकसभा सांसद चुने जाने से पहले 2022 तक राज्यसभा सांसद भी रह चुके हैं। उन्हें राज्यसभा के लिए मनोनीत किया गया था। सुरेश गोपी साउथ फिल्म इंडस्ट्री का जाना-माना चेहरा हैं और कई बड़ी फिल्मों में नजर आ चुके हैं। इसके अलावा, उन्होंने कई टीवी शो भी होस्ट किए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम:जल्द भीषण गर्मी से राहत,होगी झमा झम बारिश

Most Popular

To Top