उत्तराखंड

देहरादून: ग्राफिक एरा डीम्ड युनिवर्सिटी व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सहयोग से किशोर न्याय व्यवस्था पर सेमिनार का आयोजन,

देहरादून- मानविकी एवं सामाजिक विज्ञान विभाग, ग्राफिक एरा डीम्ड युनिवर्सिटी, देहरादून द्वारा आज  सेमिनार हॉल मे जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, देहरादून के सहयोग से भारत में किशोर न्याय व्यवस्था विषय पर एक विधिक जागरूकता शिविर आयोजित किया गया, कार्यक्रम का शुभारंभ सिविल जज (वरिष्ठ प्रभाग)/सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, देहरादून हर्ष यादव एवं विभागाध्यक्ष डॉ0 प्रभा लामा व अन्य द्वारा दीप प्रज्जवलन कर किया।
शिविर में  मुख्य अतिथि के रूप में सिविल जज (वरिष्ठ प्रभाग)/सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, देहरादून हर्ष यादव द्वारा उपस्थित प्रतिभागियों/छात्र-छात्राओं को भारत के संविधान की उद्देशिका, भारत के संविधान में ‘न्यायश्, अनुच्छेद 14 में वर्णित समता का अधिकार, भारतीय न्याय व्यवस्था, किशोर न्याय (बालकों की देखरेख एवं संरक्षण) अधिनियम, 2015, किशोर न्याय बोर्ड एवं बाल कल्याण समिति का गठन एवं कार्य, मोटर वाहन अधिनियम, जनपद देहरादून में नशे की समस्या, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, देहरादून के कार्य आदि के सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी दी। मानविकी एवं सामाजिक विज्ञान विभाग, ग्राफिक एरा डीम्ड युनिवर्सिटी, देहरादून की विभागाध्यक्ष डॉ0 प्रभा लामा द्वारा कार्यक्रम के आयोजन एवं सहयोग के संबंध में प्रध्यापकगण, छात्रों तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, देहरादून को धन्यवाद ज्ञापित किया।
इस अवसर पर मानविकी एवं सामाजिक विज्ञान विभाग, ग्राफिक एरा डीम्ड युनिवर्सिटी, देहरादून की विभागाध्यक्ष डॉ0 प्रभा लामा, डॉ0 निधि त्यागी सहित अन्य प्रध्यापकगण एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सुश्री शिवानी मौर्या, उमेश्वर सिंह रावत,  त्रिलोचन जोशी आदि अधिकारी/कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  एसजीआरआरयू में योग दर्शन पर मंथन को जुटे योग शोधार्थी

Most Popular

To Top