क्राइम

उत्तराखंड में फैलता साइबर ठगों का जाल, एक हफ्ते में एक करोड़ से ज्यादा की ठगी



देहरादून। साइबर ठगी की बढ़ती घटनाओं ने पुलिस की नींद उड़ा दी है। ठगों ने एक सप्ताह में ही चार व्यक्तियों से एक करोड़ 70 लाख रुपये की धोखाधड़ी कर दी। इन मामलों में साइबर थाना पुलिस ने मुकदमे दर्ज कर लिए हैं।

बता दें कि कोटद्वार के अवधेश कुमार ने पुलिस को बताया कि फेसबुक के माध्यम से उनकी दोस्ती रिया शर्मा नाम की युवती से हुई थी। आठ अगस्त को युवती ने बताया कि वह फॉरेक्स ट्रेडिंग का काम करती है, जिसमें उसे काफी लाभ हुआ है। युवती ने बताया कि उसके चाचा फॉरेक्स ट्रेडिंग के एक्सपर्ट हैं और वह काफी सालों से यह काम कर रहे हैं।

लगाया 65 लाख का चूना

युवती ने अवधेश कुमार को भी इसमें निवेश करने का प्रलोभन दिया। इसके लिए उसने अवधेश के मोबाइल में एक एप डाउनलोड करवाया, जिसके माध्यम से उसका खाता खोला गया। 19 अगस्त से अवधेश ने विदेशी मुद्रा खरीदनी शुरू कर दी। जब उसने अपने खाते से विदेशी मुद्रा निकालनी चाही तो वह फ्रीज बताई गई। इस पर अवधेश ने युवती से बात की तो उसने बताया कि इसमें निवेश करके आपको काफी फायदा हुआ है। धनराशि निकालने के लिए 30 प्रतिशत इनकम टैक्स देना होगा। इसके बाद अवधेश ने पौने 23 लाख रुपये खाते में जमा किए। इसके बाद भी खाता फ्रीज ही रहा। जब उसने युवती से बात की तो उसने और धनराशि जमा करने की बात कही। करीब 65 लाख गंवाने के बाद अवधेश को ठगी का एहसास हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  निर्देशः विश्वविद्यालय व शासन के अधिकारियों को दिए गए ये निर्देश, जल्द होगा समस्याओं का समाधान

ऑनलाइन ट्रेडिंग के नाम पर ठगे 40 लाख रुपये

अन्य मामले में ठगों ने हरिद्वार के व्यक्ति से 40 लाख रुपये ठग लिए। हरिद्वार निवासी हेमंत कुमार ने बताया कि अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें फोन कर ऑनलाइन ट्रेडिंग में काम कर अच्छा मुनाफा कमाने का लालच दिया। आरोपित ने उन्हें वाट्सएप पर मैसेज किया और टेलीग्राम से जोड़ दिया। इसके बाद गूगल मैप पर होटल के पांच स्टार रेटिंग करने का काम सौंपा। इसके बाद ठगों ने टास्क दिया कि यदि वह ऑनलाइन निवेश करते हैं तो उन्हें मोटा मुनाफा होगा। इस तरह ठगों ने उनसे 40 लाख रुपये ठग लिए।

यह भी पढ़ें 👉  आम बजटः उत्तराखंड को केंद्र ने दी सौगात, बजट में किया ये ऐलान,सीएम धामी ने किया धन्यवाद

पार्ट टाइम नौकरी का झांसा देकर 34 लाख रुपये ठगे

शिकायतकर्ता विक्रम सिंह निवासी रायपुर ने बताया कि अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें वाट्सएप पर संपर्क कर पार्ट टाइम नौकरी का झांसा दिया। इसके बाद उन्हें टेलीग्राम चैनल से जोड़कर कुछ टास्क दिए। इसके बाद विभिन्न कंपनियों में निवेश करने के नाम पर उनसे 34 लाख रुपये ठग लिए।

यह भी पढ़ें 👉  बीकेटीसी में सुरक्षा संवर्ग और आईटी संवर्ग के लिए 58 पदों के सृजन की स्वीकृति

टास्क देकर व्यक्ति से ठग लिए 20 लाख रुपये

साइबर ठगों ने दून के व्यक्ति को अधिक कमाई का झांसा देकर निवेश करने के नाम पर 20 लाख रुपये ठग लिए। सहस्रधारा रोड निवासी मनीश कुमार ने बताया कि 11 अक्टूबर को उन्हें अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर कंपनी के प्रचार के बदले 205 रुपये प्रतिदिन कमाने का झांसा दिया। 13 अक्टूबर को ठगों ने उन्हें टेलीग्राम से जोड़ा। इसके बाद उन्हें वीआईपी टास्क बताकर उनसे 94 हजार रुपये जमा करवाए। इसके बाद अलग-अलग टास्क बताकर उनसे 20 लाख रुपये ठग लिए।

Most Popular

To Top