उत्तराखंड

श्री कुबेर मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का दूसरा दिन, शाम तक चली महाविद्या पाठ एवं पूजा

नवनिर्मित श्री कुबेर मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह कार्यक्रम का दूसरे दिन शाम तक चली पूजा।

पांडुकेश्वर/जोशीमठ/ गोपेश्वर: 13 जनवरी। अयोध्या में भगवान राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष्य में श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति ( बीकेटीसी) ने शनिवार से योग बदरी पांडुकेश्वर में स्वच्छता अभियान शुरू किया, वहीं नवनिर्मित श्री कुबेर मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के दूसरे दिन महाविद्या पाठ एवं पूजा अर्चना देर शाम तक चलती रही।

उल्लेखनीय है कि जहां प्रदेश में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अयोध्या में भगवान श्री राममंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह 22 जनवरी के उपलक्ष्य में दीपोत्सव, भक्ति -भजन, जागरण कार्यक्रमों, स्वच्छता अभियान हेतु प्रदेशवासियों का आह्वान किया है श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति अध्यक्ष अजेंद्र अजय के निर्देश पर बीकेटीसी के सभी मंदिरों में विशेष पूजाओं, दीपोत्सव स्वच्छता अभियान हेतु मुख्य कार्याधिकारी योगेंद्र सिंह ने आदेश जारी किये, बीकेटीसी मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया की इसी क्रम में पहले श्री नृसिंह मंदिर जोशीमठ में विशेष स्वच्छता अभियान चलाया गया आज से योग बदरी पांडुकेश्वर में स्वच्छता जनजागरण अभियान शुरू हो गया है अन्य अधिनस्थ मंदिरों में भी बीकेटीसी जनजागरण एवं स्वच्छता अभियान आयोजित कर रही है जिसमें मंदिर समिति कर्मचारी तथा स्थानीय लोग तथा संस्थाये भी स्वेच्छा से प्रतिभाग कर रही हैं।

यह भी पढ़ें 👉  प्रभाव:केदारनाथ में एवलांच की घटनाओं से यात्रा में पड़ रहा प्रभाव

स्वच्छता अभियान में मंदिर समिति कर्मचारी तथा महिला मंगल दल पांडुकेश्वर भी शामिल रहा।इस अवसर पर बीकेटीसी उपाध्यक्ष किशोर पंवार ने कर्मचारियों का उत्साह वर्धन किया महिला मंगल दल अध्यक्ष बीना पंवार,जयश्री पंवार,ऋतु शर्मा, मंदिर प्रभारी नवीन भंडारी,संजय भंडारी, हरेंन्द्र कोठारी,नारायण भट्ट विनीत सनवाल, राजदीप सनवाल,विपुल मेहता, प़कज कुमार,कृष्णा कुमार, सिकंत लाल,अंबरीश मेहता आदि स्वच्छता अभियान में शामिल हुए।

यह भी पढ़ें 👉  सीएम धामी ने नरेंद्र मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री की शपथ लेने पर दी बधाई

वहीं देवताओं के खजांची श्री कुबेर के शीतकालीन प्रवास पांडुकेश्वर स्थित नव निर्मित मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा समारोह कार्यक्रम के दूसरे दिन भी महाविद्यापाठ चलता रहा। बीते शुक्रवार को जल कलश यात्रा तथा शुद्धिकरण हवन शुरू हुआ। 15 जनवरी मकर सक्रांति के दिन पूर्णाहुति हवन यज्ञ के बाद श्री कुबेर जी नये मंदिर में विराजमान होंगे।
श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति ( बीकेटीसी) उपाध्यक्ष किशोर पंवार लगातार आज दूसरे दिन प्राण प्रतिष्ठा पाठ में शामिल रहे।

यह भी पढ़ें 👉  शुभकामनायें:कृषिमंत्री ने लोक सेवा आयोग से चयनित अभ्यर्थियों को बांटे नियुक्ति पत्र

Most Popular

To Top