उत्तराखंड

अद्वितीय UCC ड्राफ्ट: जस्टिस रंजना देसाई का धारावाहिक कानून, सोशल मीडिया पर हल्चल मचा देगा

Enter ad cod

हिन्दू-मुस्लिम-सिख-ईसाई में कोई भेदभाव न करने वाला एक जैसा कानून, जिसको समान नागरिक संहिता (UCC) के तौर पर जाना जा रहा है, से जुड़ा ड्राफ्ट Justice (Ret) रंजना देसाई की अगुवाई वाली 5 Members Committee ने तैयार कर दिया है.CM पुष्कर सिंह धामी ने Social Media प्लेटफार्म X पर इसकी जानकारी साझा कर कहा कि `ड्राफ्ट’ मिलते ही जल्द State Assembly Session बुला के इसके `बिल’ को पास किया जाएगा.सभी को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देने के साथ ही CM के इस ऐलान से सियासी और सामाजिक दुनिया में हलचल मचनी तय है.

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि समान नागरिक संहिता के लिए सरकार की तरफ़ से बनाई गई 5 सदस्यों की कमेटी ने ड्राफ्ट का काम ख़त्म कर लिया है.इसकी इत्तिला उनको आज ही की गई है.ड्राफ्ट और सिफारिशें सरकार को मिलते ही विधानसभा का सत्र बुलाकर पास कर इसे उत्तराखण्ड में लागू कर दिया जाएगा.संभव है कि ये कदम लोकसभा चुनाव से पहले उठा लय जाएगा.

यह भी पढ़ें 👉  Breaking:PM के नेतृत्व में सहकारिता विभाग ने उत्तराखंड मे किया दुनिया की सबसे बड़ी अनाज भंडारण सुविधा का उद्घाटन

ख़ास बात ये है कि UCC ड्राफ्ट और इसको अमल में लाने का इन्तजार सिर्फ उत्तराखंड सरकार को नहीं है.माना जा रहा है कि केंद्र की मोदी सरकार भी इस अहमतरीन कानून का बेसब्री से इन्तजार कर रही थी.वह ये देखने की हसरत शायद रख रही है कि इस कानून का असर किस किस्म का और कैसा सामने आता है.इसके बाद वह देश भर में पुष्कर के UCC को ही लागू करने की ख्वाहिश रखती है.

यह भी पढ़ें 👉  Breaking:धामी ने बदल डाली परम्परा

मुख्यमंत्री पुष्कर के बारे में समझा जाता है कि वह PM नरेंद्र मोदी की मंशा और भावना को बाखूबी समझते हैं.UCC को संघ और मोदी की प्रमुख इच्छाओं में शुमार किया जाता है.उनके आदेश या इच्छा जाहिर करने से पहले ही पुष्कर ने UCC पर कामकाज शुरू कर जस्टिस देसाई समिति का गठन कर दिया था.

`जीरो टॉलरेंस आन करप्शन’ को अपनाते हुए राज्य में सख्त नकल विरोधी कानून लागू कर और तमाम छोटे-बड़े नक़ल माफिया को जेल की सींखचों के पीछे पहुंचा के वह पहले ही देश में सुर्खियाँ बटोर चुके हैं.मोदी-शाह-संघ के सबसे करीबी भाजपाई मुख्यमंत्री माने जाने वाले पुष्कर UCC लागू होने के बाद आला कमान के और भरोसेमन्द बन के उभरेंगे.इसमें कोई शक नहीं है.

यह भी पढ़ें 👉  Breaking:मानव-जीव संघर्ष पर CM धामी सख्त

इसकी भी उम्मीद जताई जा रही है कि संघ और मोदी के महत्वाकांक्षी UCC को अमल में लाने के बाद PSD उत्तराखंड के साथ ही केन्द्रीय सियासत में भी अपने कद का इजाफा करेंगे.UCC लागू होने पर मोदी-शाह-संघ की स्कोरशीट में PSD का अधिक अंक जुटाना ताज्जुब की बात नहीं रह जाएगी.

Most Popular

To Top