उत्तराखंड

चमोली में हुआ दर्दनाक हादसा, सीवर ट्रीटमेंट प्लांट में करंट लगने से 16 लोगों की मौत

चमोली से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। अलकनंदा नदी के तट पर नमामि गंगे प्रोजेक्ट के सीवर ट्रीटमेंट प्लांट में आज सुबह एक बड़ा हादसा हो गया है। बता दें कि नमामि गंगे के सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के पास करंट फैल गया है। करंट लगने से 15 लोगों की मौत हो गई है। वहीं कई लोग इसकी चपेट में आ गए, इसमें पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। बता दें कि करंट लगने से झुलसे लोगों को जिला चिकित्सालय लाया गया है। राज्य आपदा परिचालन केंद्र के अनुसार घटना के समय 22 लोग मौके पर मौजूद थे। घायलों को जिला चिकित्सालय ले जाया गया है, जहां उनका इलाज जारी है। झुलसने वालों में तीन की हालत अभी भी गंभीर बताई जा रही है, जिसमें चमोली के दारोगा भी शामिल हैं। दो घायलों को एयरलिफ्ट कर देहरादून लाया जा रहा है। पांच घायलों का चमोली में उपचार चल रहा है। इस दुर्घटना में 15 लोगों की मौत हो गई है।

यह भी पढ़ें 👉  निर्देश:धामी के ग्राउंड पर उतरते ही व्यवस्था हुई दुरस्त

चमोली में हुए हादसे पर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने कहा है कि साइट पर देर रात एक व्यक्ति की मौत के बाद स्थानीय चौकी इंचार्ज और होमगार्ड पंचनामा करने के लिए साइट पर गए थे। इस दौरान मृतक के स्वजनों सहित अन्य लोगों की वहां पर भीड़ जमा हो गई। इसी बीच वहां करंट फैल गया और मौजूद लोग इसकी चपेट में आ गए। डीआइजी एसडीआरएफ रिद्धिम अग्रवाल के अनुसार एच टी लाइन टूटने के कारण चमोली में ये हादसा हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  खुलासा:मेडिकल स्टूडेंट्स के सुसाइड मामलों मे NMC का खुलासा,SGRR केस मे भी यही कारण शत प्रतिशत

उधर, चमोली हादसे पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दुख जताया है। 15 लोगों की मौत की पुष्टि करते हुए उन्होंने जांच के आदेश दिए हैं। सीएम धामी ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश देते हुए कहा है कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वहीं चमोली में हुए दर्दनाक हादसे को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री डा धन सिंह रावत चमोली के लिए रवाना हो गए हैं। मौके पर जांच और हालात दोनों पर वह जायजा लेंगे। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी चमोली जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  होशियार:ऋषिनगरी मे डिफेन्स की नकली शराब,लोगों की सेहत से खिलवाड़, वीडियो

Most Popular

To Top