उत्तराखंड

देहरादून में नहीं थम रहा डॉक्टर्स के इस्तीफा देने का सिलसिला, ये है वजह



उत्तराखंड में डॉक्टर्स लगातार इस्तीफा दे रहे हैं, जिससे प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था बेपटरी हो चुकी है। दून मेडिकल कॉलेज से कई डॉक्टरों ने इस्तीफा दे दिया है और यह सिलसिला लगातार जारी है। सूत्रों के मुताबिक इसकी वजह अच्छा वेतन न मिलना बताई जा रही है।

कम सैलरी की वजह से इस्तीफा दे रहे डॉक्टर्स
देहरादून के दून मेडिकल कॉलेज से कई डॉक्टरों ने इस्तीफा दे दिया है और यह सिलसिला लगातार जारी है बताया जा रहा है कि अब मनोरोग विभाग के प्रमुख डॉक्टर जेएस राणा ने इस्तीफा दे दिया है। हालांकि इस्तीफा देने की वजह सही वेतन न मिलाना बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार मनोरोग विभाग के प्रमुख डॉक्टर ने दून मेडिकल कॉलेज से इस्तीफा दे दिया है। वहीं ब्लड बैंक से डॉक्टर मनाली राजा प्लास्टिक सर्जरी विभाग से डॉक्टर शिरीष कोंडा पहले इस्तीफा दे चुकी है। सर्जरी विभाग से भी गाड़ी रोड डॉक्टर अंकित जैन डॉक्टर विनम्र मित्तल डॉ पुनीत त्यागी डॉ राकेश रावत गायनी से डॉक्टर स्तुति त्यागी एनेस्थीसिया से डॉक्टर पीयूष फिजियोलॉजी से डॉक्टर आशीष गोयल डॉक्टर रवि का इस्तीफा पहले ही हो चुका है।

यह भी पढ़ें 👉  अलर्टः उत्तराखंड में भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त, कई मार्ग बाधित

संविदा डॉक्टर्स दे रहे हैं इस्तीफा 
स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का आलम ये है कि, संविदा पर जो काम कर रहे हैं डॉक्टर उन्होंने भी कुछ दिनों पहले इस्तीफा दे दिया था बीते कुछ वहां पहले 8 से 10 डॉक्टर ने मेडिकल कॉलेज की नौकरी छोड़ने की अपनी इच्छा व्यक्त की थी बताया जा रहा है इनमें से कुछ डॉक्टर ने अपना व्यक्तिगत कारण बताया था जिन्होंने रिजाइन दिए हैं जबकि कुछ डॉक्टर अपना अस्पताल शुरू कर रहे हैं कुछ निजी मेडिकल कॉलेज अस्पताल ज्वाइन कर रहे हैं। हालांकि अभी इस पर विचार किया जा रहा है कि इन डॉक्टरों के इस्तीफा स्वीकार किए जाएं या नहीं। डॉक्टर्स के इस्तीफे की पीछे सबसे बड़ी वजह सैलरी कम होना मानी जा रही है। डॉक्टर सरकारी अस्पतालों को छोड़कर अपने अस्पताल खोलने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं या फिर प्राइवेट अस्पतालों में जॉब कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  मंजूरीः हल्द्वानी मेडिकल कॉलेजों के लिए खुशखबरी,  मिली एक दर्जन मेडिकल फैकल्टी की नियुक्ति को मंजूरी

Most Popular

To Top