उत्तराखंड

गाजे बाजे के साथ निकली श्रीराम की शोभायात्रा, ढोल की थाप पर रामभक्तों ने किया नृत्य

ऋषिकेश। तीर्थनगरी की पौराणिक 1995 से स्थापित श्रीरामलीला कमेटी सुभाष बनखंडी की ओर से भव्य, दिव्य श्रीराम शोभायात्रा का गाजे बाजे के साथ आयोजन किया गया। शोभायात्रा का नगर के विभिन्न जगहों पर पुष्प वर्षा से स्वागत किया गया। शोभायात्रा में श्रीराम दरबार, शिव परिवार, भगवान विष्णु, भगवान वाल्मीकि और लव-कुश की सुंदर झांकियां आकर्षण का केंद्र रही। इस दौरान श्रीराम भक्तों का तांता लगा रहा।

मंगलवार को बनखंडी स्थित रामलीला मैदान से निकली शोभायात्रा का शुभारंभ क्षेत्रीय विधायक व मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने किया। उन्होंने अयोध्या में भव्य राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि श्री रामचंद्र जी की सभी चेष्टाएं धर्म, ज्ञान, नीति, शिक्षा, गुण, प्रभाव, तत्व एवं रहस्य से भरी हुई हैं। डॉ अग्रवाल ने कहा कि रामजी का व्यवहार देवता, ऋषि, मुनि, मनुष्य, पक्षी, पशु आदि सभी के साथ ही प्रशंसनीय, अलौकिक और अतुलनीय है। उसे स्मरण करने से ही रोमांच हो आता है। कहा कि भगवान श्री राम की कोई भी चेष्टा ऐसी नहीं जो कल्याणकारी न हो।डॉ अग्रवाल ने कहा कि साक्षात पूर्णब्रह्म परमात्मा होते हुए भी मित्रों के साथ मित्र जैसा, माता-पिता के साथ पुत्र जैसा, सीता जी के साथ पति जैसा, भाइयों के साथ भाई जैसा, सेवकों के साथ स्वामी जैसा, मुनि और ब्राह्मणों के साथ शिष्य जैसा, इसी प्रकार सबके साथ यथायोग्य त्यागयुक्त प्रेमपूर्ण व्यवहार किया है। कहा कि उनके प्रत्येक व्यवहार से हमें शिक्षा लेनी चाहिए। डॉ अग्रवाल ने कहा कि हिंदू संस्कृति के अनुसार भाइयों के साथ प्रेमपूर्ण व्यवहार होना चाहिए। इसकी शिक्षा हमें रामायण में श्रीराम, श्रीलक्ष्मण, श्रीभरत एवं श्रीशत्रुघन के चरित्रों से स्थान-स्थान पर मिलती है। कहा कि उनकी प्रत्येक क्रिया में स्वार्थ त्याग और प्रेम का भाव झलकता है।इस दौरान शोभायात्रा का रेलवे मार्ग, देहरादून रोड, श्रीभरत मंदिर मार्ग, लाजपतराय मार्ग, झंडा चौक, मुखर्जी मार्ग, घाट मार्ग, हरिद्वार मार्ग, तिलक रोड पर स्वागत किया गया। शोभायात्रा का समापन रामलीला मैदान बनखंडी में हुआ। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल, पुरोला के विधायक दुर्गेश्वर लाल, रामलीला कमेटी अध्यक्ष विनोद पाल, महामंत्री हरीश तिवाड़ी, भाजपा जिला अध्यक्ष रविंद्र राणा, जिला महामंत्री दीपक धमिजा, मण्डल अध्यक्ष सुमित पंवार, शिव कुमार गौतम, राजेश दिवाकर, अध्यक्ष महिला मोर्चा कविता शाह, सतीश पाल, दीपक बिष्ट, माधवी गुप्ता, रूपेश गुप्ता, नीरज चौहान, मनमीत कुमार, रोहताश पाल, अभिनब पाल आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने यह दो दिवसीय संवाददात्मक बैठक में किया प्रतिभाग,

Most Popular

To Top