उत्तराखंड

उत्तराखंड में बढ़ा डेंगू का डंक, आंकड़ा पहुंचा 600 के पार; सबसे ज्यादा केस देहरादून में

बीते दिनों भारी बारिश की मार झेलने के बाद अब उत्तराखंड में डेंगू संक्रमण से परेशान है। राज्य के मैदानी जिलों में डेंगू लगातार पांव पसार रहा है। डेंगू से सबसे ज्यादा राजधानी देहरादून में  में हाहाकार मचा हुआ है। बता दें कि डेंगू के कुल मामलाें में 65 प्रतिशत देहरादून जिले से हैं।

राजधानी देहरादून में सबसे ज्यादा केस 

दरअसल उत्तराखंड में एक ओर जहां डेंगू के मरीजों की संख्या 600 के पार पहुंच गई है। वहीं देहरादून में डेंगू के मरीज की संख्या सबसे ज्यादा 418 है, जिसने सभी की चिंताएं बढ़ा दी है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य के हरिद्वार, उधम सिंह नगर और देहरादून जिले डेंगू से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।  जबकि सात पर्वतीय जिलों में अभी तक डेंगू का एक भी मामला नहीं मिला है।

डेंगू के कुल  643 मामले 

यह भी पढ़ें 👉  लघु सिंचाई खंड नैनीताल के अधिशासी अभियंता गिरफ्तार, बरामद हुए इतने लाख रुपये

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, प्रदेश में 28 अगस्त तक डेंगू के कुल 643 मामले सामने आए हैं, जबकि देहरादून में डेंगू से एक मरीज मौत हुई है। सरकारी और निजी अस्पतालों में योजना डेंगू लक्षण वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है। देहरादून जिले में तेजी से डेंगू संक्रमण फैल रहा है। कुल मामलों में 418 मामले देहरादून जिले में मिले हैं।

एक दिन में 41 मरीज मरीज 
सोमवार को पांच जिलों में 41 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। इसमें देहरादून जिले में 19, नैनीताल में 15, पौड़ी में तीन, चमोली में तीन, ऊधमसिंह नगर जिले में एक मामला मिला है। राज्य वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम अधिकारी डॉ. पंकज सिंह ने बताया, प्रदेश में डेंगू नियंत्रण में है। छह जिलों में ही अभी तक डेंगू संक्रमित मामले मिले हैं। उन्होंने कहा, बारिश से मौसम में बुखार आते ही लोगों में डेंगू को लेकर भय और बेचैनी का माहौल पैदा हो जाता है, जबकि लोगों को घबराना नहीं चाहिए। इसके लिए सतर्क रहने की जरूरत है। डेंगू मरीज का प्लेटलेट्स काउंट 10 हजार से ज्यादा हो तो प्लेटलेट्स ट्रांसफ्यूजन की कोई जरूरत नहीं होती है।

यह भी पढ़ें 👉  नियम:इन महाशय के लिए कंहा गया उत्तराखंड पुलिस का नियम? पुलिस पर प्रश्नचिन्ह

प्रदेश में अब तक जिलावार डेंगू के मामले
देहरादून-418

हरिद्वार-91

नैनीताल-89

पौड़ी-38

ऊधमसिंह नगर-3

चमोली-4

उत्तराखंड में बढ़ा डेंगू का खतरा

उत्तराखंड की स्वास्थ्य विभाग की टीम के अनुसार डेंगू अब राज्य में पैर पसारने की तैयारी में नजर आ रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकी स्वास्थ्य विभाग की टीम को देहरादून में 7 हजार से ज्यादा जगहों पर डेंगू के लार्वा मिले हैं। जिसकी जानकारी होने पर स्थानीय लोग आने वाले समय में डेंगू को लेकर पूरी तरह से सतर्क हो गए हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लार्वा को नष्ट करने के लिए फॉगिंग के साथ ही एंटी लार्वा केमिकल का छिड़काव शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  होशियार:ऋषिनगरी मे डिफेन्स की नकली शराब,लोगों की सेहत से खिलवाड़, वीडियो

पर्वतीय जिलों में नहीं मिले डेंगू संक्रमित

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार एक हैरतअंगेज आंकड़ा सामने आया है, जिसमें बताया जा रहा है कि आशा कार्यकर्ताओं और वॉलेंटियरों ने 20 हजार से ज्यादा घरों का सर्वे किया है। जिस दौरान 7 हजार से ज्यादा डेंगू के लार्वा सामने आए हैं। रिपोर्ट के अनुसार देहरादून में तेजी से डेंगू संक्रमण फैलने के कारण अब सरकारी और निजी अस्पतालों में डेंगू मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है। फिलहाल राहत की बात यह है कि सात पर्वतीय जिलों में अभी तक डेंगू का एक भी मामला सामने नहीं आया है।

Most Popular

To Top