उत्तराखंड

शहीदों की याद में कैबिनेट मंत्री ने किया पौधरोपण, कही ये बात



ऋषिकेश: जम्मू कश्मीर के कठुआ में शहीद हुए उत्तराखंड के पांच वीर जवानों की स्मृति में क्षेत्रीय विधायक व कैबिनेट मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने कार्यकर्ताओं के साथ पौधारोपण किया। उन्होंने कहा कि यह पौधे सदैव हमारे वीर शहीदों के बलिदान के लिए स्मरणीय रहेंगे। कार्यक्रम के दौरान केदारनाथ की दिवंगत विधायिका शैलारानी रावत को भी श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान 2 मिनट का मौन भी रखा गया।

बैराज रोड स्थित कैम्प कार्यालय में डॉ अग्रवाल ने रुद्रप्रयाग के नायब सूबेदार आनंद सिंह, पौड़ी के हवलदार कमल सिंह और राइफलमैन अनुज नेगी, टिहरी के नायक विनोद सिंह और राइफलमैन आदर्श नेगी की स्मृति में अमरूद, कटहल, जामुन, नींबू, आंवला के पौधे रोपे।

डॉ अग्रवाल ने कहा कि हमारी सरकार राष्ट्रीय हितों की रक्षा के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है, चाहे कोई भी चुनौती क्यों न हो। “देश की संप्रभुता, एकता और अखंडता की रक्षा में कोई समझौता नहीं किया जाएगा। कहा कि हमने देश के शत्रुओं को खत्म करने के लिए सशस्त्र बलों को खुली छूट दे रखी है। उन्होंने कहा कि पहले देश और सशस्त्र बलों में राजनीतिक इच्छाशक्ति की कमी थी, लेकिन अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली हमारी सरकार ने इस कमी को दूर कर दिया है। हम अपनी सेनाओं के साथ मजबूती से खड़े हैं। लोगों और संसद को हमारे सैनिकों पर पूरा भरोसा है।”

यह भी पढ़ें 👉  बदलावः श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अध्यक्ष की मेहनत ला रही रंग, बदलाव की बयार

डॉ अग्रवाल ने कहा कि एक सैनिक का जीवन त्याग और तपस्या का जीवन है। यह उनका अपने देश के लिए प्रेम ही तो है कि वे अपने घर वालों को पीछे छोड़कर देश कि सेवा के लिए चले जाते हैं। कहा कि एक सैनिक का जीवन संघर्ष और गर्व का समन्वय होता है। जहाँ एक तरफ वो खतरे देश के लिए लड़ते है वही उन्हें देश के लिए क़ुर्बान होने का गर्व भी होता है। उन्होंने कहा कि हमें सदैव सैनिकों का सम्मान करना चाहिए। सैनिकों के योगदान को सदा स्मरण करना चाहिए, उन्हीं की वजह से हम अमन से रह पाते है। हम सभी को सैनिकों से प्रेरणा लेना चाहिए और अपने कार्य को देश की प्रगति में लगाना चाहिए।

यह भी पढ़ें 👉  बयान: सीएम धामी ने अग्निवीर योजना को लेकर दिया बड़ा बयान, आ सकता है बड़ा एक्ट

डॉ अग्रवाल ने कहा कि यदि आपको जीवन में अनुशासन का सही उदाहरण देखना हो तो एक सैनिक से अवश्य मिलें। उनका अपने देश के लिए पागलपन देखते बनता है। उनका अनुशासन उन्हें अपने घर-परिवार से दूर तो रखता ही है, साथ ही साथ भोजन, नींद और आराम को भी त्यागना पड़ता है। वाकई यह किसी तपस्या से कम नहीं।

यह भी पढ़ें 👉  स्वास्थ्य: डॉ. धन सिंह रावत के निर्देश, स्वास्थ्य मिशन की योजनाओं का आमजन को मिले लाभ 

इस मौके पर भाजपा जिला अध्यक्ष रविंद्र राणा, महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष कविता शाह मंडल अध्यक्ष सुमित पवार, शिवानी भट्ट, जयंत किशोर शर्मा, देवदत्त शर्मा, दीपक बिष्ट, शिव कुमार गौतम, विरेन्द्र रमोला, दिनेश सती, महिला मोर्चा मण्डल अध्यक्ष निर्मला उनियाल, माधवी गुप्ता, नितिन सकसेना, राजू नरसिम्हा, बृजेश शर्मा, प्रदीप कोहली, शम्भू पासवान, राम कुमार संगर, मानवेन्द्र कंडारी, नंद किशोर जाटव, सुरेंद्र कक्कड़, सोनू पांडेय, सुधा असवाल, पुनिता भंडारी, आशा शुक्ला, चंदू यादव, रूपेश गुप्ता, सुजीत यादव, अखिलेश मित्तल, विनोद भट्ट, आशीष अग्रवाल, अनामिका अग्रवाल आदि सैकड़ो की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Most Popular

To Top